Publisher Theme
Art is not a luxury, but a necessity.

बच्चों से बाल मजदूरी करवाना कानूनी अपराध : उपमडंलाधीश देवीलाल सिहाग

0
उपमडंलाधीश देवीलाल सिहाग ने मगंलवार को अपने कार्यालय मे सक्षम हरियाणा योजना के तहत रतिया खंड के शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित रिव्यू बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षा लेने वाले कुछ स्कूलों से बच्चे लेबर करने के लिए दुसरे राज्यों में गए हैं जो  हमारे लिए एक बड़ी समस्या है।  जिससे बच्चों की पढ़ाई खराब होने के साथ साथ बच्चों से बाल मजदूरी करवाना एक कानूनी अपराध भी है। इससे बच्चों का भविष्य अंधकार में जा रहा है। बच्चों के अभिभावकों को चाहिए कि बच्चों की पढ़ाई में किसी प्रकार की बाधा न पहुंचे इसके लिए हम सभी को उनको जागरूक किया जाना चाहिए। हरियाणा सरकार भी सरकारी स्कूल में शिक्षा ग्रहण करने वाले बच्चों को विशेष सुविधा दे रही है ।
बच्चों के अभिभावकों से अपील है कि वह अपने बच्चों की पढ़ाई तथा उनकी परवरिश में कोई कमी न आने दे ताकि उनका भविष्य उज्जवल हो। उन्होंने मीटिंग में आए सभी अध्यापकों से कहा कि दीपावली जैसे त्योहारों पर प्रदूषण रहित दीपावली मनाने के लिए बच्चों को प्रेरित करें तथा अपने बच्चों को भी ऐसा करने से रोके। उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें और भोजन करने से पहले हाथों को अच्छी तरह साफ करें ताकि भोजन करते समय दूषित कण शरीर के अंदर न चले जाएं जिससे बच्चों को बीमारियों से बचाया जा सके। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि दीपावली उत्सव पर मिट्टïी से बने दीपक जलाए। इनसे प्रदूषण भी नहीं होगा, तरंगे व पतंगे भी नहीं होंगे। भारतीय सञ्जयता व प्रदेश की परंपरा भी बरकरार रखी जा सकेगी, इस बारे भी लोगों को जागरूक करे। उन्होंने बी.ई.ओ., बीआरपी, एबीआरसी को समय समय पर स्कूलो का निरतंर शैक्षिक दौरा करने के आदेश दिये। बैठक में बीईओ लक्ष्मीकातं, एबीआरसी जसविंदर सिंह, बीआरपी ज्योति, सीमा, सीआरसी डा.नैब सिंह मंडेर, तजिंदर कौर,विनोद, शमशेर सिंह, राकेश ,प्रेम सिंह, प्रमजीत उपस्थित थे।
report-सुनील कुमार

Leave A Reply

Your email address will not be published.